41.6 C
New Delhi
Tuesday, June 25, 2024

रुकने का नाम नहीं ले रहा ताऊ मनोहर का बुलडोजर, भ्रष्टाचारियों और नशा तस्करों की खैर नहीं…

चंडीगढ़ : हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खुद को भ्रष्टाचार का काल बताते हैं और इन दिनों तो वाकई वो गैंगस्टरों और नशा तस्करों के लिए काल बने हुए हैं…. गैंगस्टरों की अवैध संपत्ति ढहाने के लिए निकला उनका बुलडोजर रूकने का नाम नहीं ले रहा है… अलग-अलग जिलों में कई गैंगस्टरों और नशा तस्करों के अवैध कब्जों को ढहा दिया गया है। सरकार ने भ्रष्टाचारियों की संपत्तियों पर बुलडोजर से वार करना शुरू किया है।

कहांकहां चला बुलडोजर…

सबसे पहले अम्बाला छावनी के पूर्व कांग्रेसी पार्षद राजेश नशा तस्कर ने सरकारी संपत्ति पर कब्ज़ा किया था। इसी कारण संपत्ति पर बुलडोजर चलाया गया है। इसके बाद बुलडोजर का काम निरंतर चल रहा है।

फरीदाबाद में मनोज मांगरिया और नशा तस्करी में शामिल महिला के अवैध ठिकानों, निर्माण व संपत्ति को ध्वस्त किया।

फरीदाबाद में नशा तस्कर बिजेंद्र उर्फ लाला और उसके परिवार द्वारा नशा तस्करी से की गई कमाई से ढाई एकड़ जमीन पर बनाई गए सेक्टर 22 मे 3 मकान 18 दुकाने 3 बडे गोदाम और 1 ऑफिस को फरीदाबाद पुलिस और जिला प्रशासन ने किया ध्वस्त।

महेंद्रगढ़ में सरकारी जमीन पर कब्जा कर अवैध तौर पर बनाए घर को ध्वस्त किया गया।

गुरुग्राम के मानेसर में सूबे गुर्जर का अवैध निर्माण ध्वस्त हुआ।

पटौदी के खेड़ गांव में गैंगस्टर अजय की अवैध कालोनी पर बुलडोजर चला।

पानीपत के उग्राखेड़ी में पीरवाली गली में सवा एकड़ में चार फैक्ट्रियों व गोदाम पर बुलडोजर चला।

पलवल के गाँव आलीमेव के 5 हजार के इनामी बदमाश असगर की अवैध संपत्ति पर चला बुलडोजर ।

रोहतक के मकडौली टोल पर बने किसान यूनियन के जिला कार्यालय चला बुलडोजर।

हिसार की अम्बेडकर बस्ती में कविता उर्फ काली और कुलदीप नशा तस्करों के घरों पर चला बुल्डोजर।

करनाल नेशनल हाईवे स्थित अनधिकृत निर्माण और आपराधिक गतिविधियों की शिकायतों के बाद मयूर ढाबा पर चला बुलडोज़र।

सरकार ने तैयार की लिस्ट…

सरकार ने भ्रष्टाचारियों और नशा तस्करों की पूरी जानकारी एकत्रित कर उन पर बुलडोजर चलाना शुरु कर दिया है जहां ये सरकारी जमीन पर कब्जा कर अपना अवैध धंधा चला रहे थे। ख़ुफ़िया विभाग द्वारा पहले इनकी संपत्ति की फोटोग्राफी-वीडियोग्राफी के साथ ही दस्तावेज भी जुटाए जा रहे हैं।  सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि यह प्रक्रिया पूरी तरह से कानूनी दायरे में रह कर की जा रही हैं। पहले नोटिस दिया जाएगा। इसके बाद भी अगर कोई संपत्ति खाली नहीं करता तो बुलडोजर चलेगा। अवैध निर्माण गिराने के बाद जमीन सरकार अपने कब्जे में ले लेगी।

कहांकहां और कितने हैं ऐसे लोग…

सरकारी अधिकारियों के अनुसार लगभग 130 गैंगस्टर्स में से 100 हरियाणा प्रदेश की जेलों और 30 अन्य राज्यों की जेलों में बंद हैं। इनके अलावा 300 से अधिक मोस्टवांटेड भी हैं। जीनपर जुटा रहे सरकारी अधिकारी दस्तावेज।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Pic of The Day

- Advertisement -spot_img

Latest Articles